Coronil (कोरोनिल)

CORONAVIRUS,coronil

पूरी दुनिया में तबाही मचा रहे कोरोना वायरस (corona virus, covid-19) की काट भारत ने ढूंढ ली है. कोरोना(COVID-19) को हराने के लिए भारत ने पहली आयुर्वेदिक औषधि तैयार कर ली है जिसका नाम है कोरोनिल(coronil). आयुर्वेद पहले जहां काढ़े के रूप में कोरोना(corona, COVID-19) को मात दे रहा था तो वहीं अब देश को कोरोना(COVID-19) से बचाने के लिए पतंजलि की कोरोनिल(Coronil) दवा भी आ गई है. आज अपनी इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे कोरोनिल (coronil) क्या है और यह कैसे शरीर में कोरोना वायरस का खात्मा करेगी.

कोरोनिल(Coronil) क्या है ?

कोरोनिल(coronil) कोरोना(COVID-19) के इलाज के लिए योग गुरु बाबा रामदेव के पतंजलि संस्थान द्वारा निर्मित आयुर्वेदिक औषधि है. पूरी दुनिया में यह कोरोना(corona) की पहली दवाई है जिससे कोरोना(COVID-19) के खात्मे का दावा किया जा रहा है. स्वामी रामदेव का दावा है कि कोरोनिल(Coronil) दवा शरीर में कोरोना संक्रमण को खत्म करने में कारगर है. कोरोनिल(Coronil) दवा को खास आयुर्वेदिक जड़ीबूटियों से तैयार किया गया है. कोरोनिल(Coronil) दवा में गिलोय(Giloy), अश्वगंधा(ashwagandha), तुलसी(tulsi), श्वसारि रस और अणु तेल का इस्तेमाल किया गया है. कोरोनिल(Coronil) दवा को पतंजलि रिसर्च इंस्टीट्यूट के 500 वैज्ञानिकों की टीम ने मिलकर तैयार किया है. इसे तैयार करने में गिलोय घनवटी, दिव्य श्वासारि वटी, पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल और तुलसी घनवटी के साथ दिव्य अणु तेल का प्रयोग किया गया है. कोरोनिल(Coronil) दवा का सबसे बड़ा फायदा यह भी है कि यह बेहद सस्ते दामों में उपलब्ध है और दावा किया जा रहा है कि इसके कोई दुष्परिणाम भी नहीं है.

कोरोनिल किट में क्या-क्या

पतंजलि की इस दिव्य कोरोना किट(DIVYA CORONA KIT) में तीन चीजें हैं- कोरोनिल(Coronil), श्वसारि वटी और अणु तेल. जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कोरोनिल(Coronil) दवा को अश्वगंधा, गिलोय और तुलसी के मिश्रण से तैयार किया गया है जो कोरोना(Covid-19) से लड़ने में पूरी तरह सक्षम है. योग गुरु बाबा रामदेव की मानें तो कोरोनिल(Coronil) दवा को तैयार करने में 100 से ज्यादा तत्वों का इस्तेमाल किया गया है जिसमें फाइटोकेमिकल और जरूरी खनिज तत्व हैं जो शरीर में इम्युनिटी(immunity) को बढ़ाकर कोरोना संक्रमण को खत्म करते हैं. कोरोना वायरस के कारण शरीर में होने वाली दिक्कतों और लक्षणों पर ये औषधियां तुरंत असर करती हैं जैसे सर्दी, बुखार, निमोनिया और सांस लेने में तकलीफ होने पर ये दवाएं असर दिखाती हैं. दिव्य कोरोना किट 30 दिन की दवाओं का डोज है.

कब और कैसे लेनी है कोरोनिल(Coronil)

कोरोनिल(coronil) दवा को सुबह, दोपहर, शाम को भोजन के आधे घंटे बाद हल्के गर्म पानी के साथ लेना है. इसकी दो-दो गोलियां खानी हैं. वहीं श्वसारि की 3-3 गोली दिन में दो बार खानी है जबकि अणु तेल की तीन से पांच बूंदे नाक में डालनी हैं. दवा की यह मात्रा 15 साल से 80 वर्ष तक के लोगों के लिए सही है वहीं 6 से 14 वर्ष की आयु के बच्चों को कोरोनिल(Coronil) दवाओं की आधी खुराक दी जाएगी.

कोरोनिल(Coronil) का क्लीनिकल ट्रायल 100 फीसदी सफल

योग गुरु बाबा रामदेव की मानें तो कोरोनिल दवा के क्लीनिकल ट्रायल के 100 फीसदी नतीजे सामने आए हैं. पतंजलि ने दावा किया कि कोरोनिल दवा से सात दिन में 100 फीसदी कोरोना मरीज़ तो वहीं तीन दिन में 69 फीसदी मरीज ठीक हो गए जबकि एक भी मौत नहीं हुई. सभी कोरोना पॉजिटिव तीन से 15 दिन के अंदर नेगेटिव हो गए.

कोरोनिल(Coronil) शरीर में कैसे करेगी काम

कोरोनिल दवा के तीन मूल घटक हैं अश्वगंधा, गिलोय और तुलसी. यह तीनों इम्यून सिस्टम को मजबूत करते हुए शरीर में कोरोना(Corona) को मार देंगे. कोरोना(corona) को रोकने के लिए इन तीनों मूल घटकों का अपना-अपना काम है. स्वामी रामदेव के मुताबिक अश्वगंधा कोविड-19 के रिसेप्टर बाइंडिंग डोमेन(RBD) को शरीर के ऐंजियोटेंसिन-कन्वर्टिंग एंजाइम(ACE) से नहीं मिलने देता. आसान भाषा में कहा जाए तो अश्वगंधा(ashwagandha) कोरोना को इंसानी शरीर की स्वस्थ कोशिकाओं में घुसने से रोकेगा. वहीं गिलोय(Giloy) संक्रमण को रोकेगा जबकि तुलसी covid-19 के आरएनए पर अटैक करती है और वायरस को बढ़ने से यानि मल्टीप्लाई होने से रोकती है. श्वसारि वटी शरीर के श्वसन तंत्र को दुरुस्त करती है और ऑक्सीजन की मात्रा को संतुलित करने में मदद करती है. वहीं अणु तेल को नाक में डाला जाता है. यह कोरोना से श्वसन नली पर पड़ने वाले असर को खत्म करके पेट तक ले जाता है. योग गुरु बाबा रामदेव के मुताबिक यह दवा ब्लडप्रेशर, हार्ट बीट, और नाड़ी को भी कंट्रोल करती है.

कैसे मिलेगी और क्या है कीमत  

30 दिनों की खुराक वाली कोरोनिल दवा की कीमत 545 रुपये है. यह दवा सभी पतंजलि स्टोर पर उपलब्ध होगी साथ ही इसे ऑनलाइड भी ऑर्डर मी(order me) ऐप के जरिए मंगा सकते हैं.

please share if you care

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *